Sign In

Not Registered? Sign up now



Enter the text you see above:

Forget Password?

RCM Business

Marketing Plan.

  • Home
  • Marketing Plan

MARKETING PLAN

(w.e.f. 1st Nov. 2012)
Definitions :

The following words used in Marketing Plan shall have the meaning as defined as under :

It is the value of a product on which the Sales Incentive is calculated. It can be seen on company’s website. The B.V. of product may be equivalent to selling price or different as may be declared by the company from time to time. Business Volume can also be changed from time to time by the company.

The leg (Group) with highest Business Volume is called main leg (Group) of Direct Seller. All the legs (Group) other than main leg (Group) are called other leg/legs (Group). Main leg (Group) may be different in different months.

Net Sales Incentive of a Direct Seller is calculated by deducting Sales Incentive of downline group from Sales Incentive of total group. This can be termed as calculation on difference basis. The Sales Incentive vtes to the Direct Seller who becomes disqualified for any reason for Sales Incentive, shall not be excluded for calculate of Sales Incentive payable to other Direct Sellers on difference basis.
Direct Seller who promotes the new person to become Direct Seller in his/her group termed as a Proposer.
Just immediate upline of new applicant termed as a sponsor.

How to become Direct Seller :-

Application form for becoming Direct Seller under proposer of any existing Direct Seller has to be submitted through the internet and a print out of the same has to be sent to the company Office after signing it by the applicant and two witnesses along with the necessary documents.

There is no charge/fee for registration as a Direct Seller. After scrutiny of the application form and documents and then the acceptance of applicant as Direct Seller, a Unique/Track ID Number will be given on website. After receiving the ID Number, the Direct Seller has to obtain the ID card by login their personal information on Website.

One Direct Seller can sponsor as many person as he/she desire. Sponsor who is not Direct Seller can sponsor single new person.

List of the documents to be submitted along with application form for becoming a Direct Seller.

  1. Two Passport size colored photograph (Mention Applicant Name & Father/Husband Name on Back Side ).
  2. Self-attested photocopy of any of the following documents for photo identification.
    1. Passport (Valid)
    2. PAN Card
    3. Voter’s Identity Card
    4. Driving License (Valid)
    5. Written confirmation from the banks certifying identity proof
    6. Domicile certificate with communication address and photograph
    7. Central/State Government certified ID proof
    8. Certification from any of the Authorities mentioned below:
      • Panchayat Pradhan
      • Councilor
      • Sarpanch of Gram Panchayat
  3. Self attested Photocopy of any of following documents for address proof:-
    1. Telephone bill not older than 6 months
    2. Bank account statement not older than 6 months(Attested by Bank)
    3. Electricity bill not older than six months
    4. Ration card
    5. Passport (Valid)
    6. Driving License (Valid)
    7. Voter’s Identity Card
    8. Written confirmation from the banks (Attested by Bank)
    9. Lease agreement along with rent receipt not older than 3 months
    10. Current employer’s certificate mentioning residence
    11. Domicile certificate with communication address and photograph
    12. Central/State Government certified Address proof.

      Please note that expired passport cannot be used as address proof, it can be accepted as ID proof.

  4. Cancelled original signed cheque which has the name printed of the account holder or original Bank statement issued and attested by bank for the proof of Bank Account Number.
  5. Photo copy of PAN Card.

Calculation of Sale Incentive :-

Sales Incentive is calculated on a fixed percentage of business volume of the purchase made by direct sellers and their groups on differential basis as follows:

Performance Bonus :-

Example 1 :-
When one has business like
Purchase in main leg (group) 80,000 B.V.
Purchase in other leg /legs (group) 33,000 B.V.
Self purchase 2,000 B.V
Total Business Volume 1,15,000 B.V.
Calculation of Performance Bonus :
Bonus of total group 1,15,000 x 24% 27,600/-
Less Bonus of main leg (group) 80,000 x 21.5% 17,200/-
Less Bonus of other leg/legs (group) 33,000 x 16.5% 5,445/-
Net performance bonus 4,955/-
Example 2 :-
When one has business like
Purchase in main leg (group) 1,18,000 B.V.
Purchase in other leg /legs (group) 52,000 B.V.
Self purchase 2,000 B.V.
Total Business Volume 1,72,000 B.V.
Calculation of Performance Bonus :
Bonus of total group 1,72,000 x 26.5% 45,580/-
Less Bonus of the main leg (group) 1,18,000 x 24% 28,320/-
Less Bonus of other leg/legs (group) 52,000 x 19% 9,880/-
Net performance bonus 7,380/-

Above examples are given for understanding.

Note : Performance Bonus will be released to only those Direct Sellers whose minimum purchase of RCM Products is 100 B.V. on accrual basis in the relevant month. Performance Bonus will be calculated on monthly Business Volume on difference basis system (Deduction of performance bonus of downline from performance bonus of total group).


Royalty :-


Note :
  1. Royalty will be released to only those Direct Sellers whose minimum purchase of RCM Products is 1500 B.V. on accrual basis in the relevant month.
  2. Royalty will be calculated on difference basis by deducting Royalty of downline from total Royalty.
  3. Royalty will be calculated on monthly basis.
  4. When B.V. of any other leg (group) except main leg (group) is 3,50,000 or more, it is called the second leg (group) and if B.V. of other leg/legs (other than main and second leg) is 1,15,000 or more, then he will get Royalty on the second leg (group) also as per the slab applicable.

Technical Bonus :-

Note :
  1. Technical Bonus will be released to only those Direct Sellers whose minimum purchase of RCM Products is equivalent to 1500 B.V. on accrual basis in the relevant month.
  2. Technical Bonus will be calculated on difference basis by deducting Technical Bonus of downline from total Technical Bonus of the main leg (group).
  3. Technical Bonus will be calculated on monthly basis.
  4. Direct Seller, who fulfills 8 % Royalty for consecutive 3 months, shall be entitled for Technical Bonus.
  5. When B.V. of any other leg (group) except main leg (group) is 5,00,000 or more, it is called the second leg and if B.V. of other leg/legs (other than main and second leg) is 5,00,000 or more, then he/she will get Technical Bonus on the second leg (group) also as per the slab applicable.

Terms & Conditions:-
  1. Except for abnormal reasons calculation of Sales Incentive shall be completed within 40 days from the last day of the month, for which Sales Incentive is to be calculated.
  2. The amount of Sales Incentive will be remitted within in 90 days from the date of calculation of the Sales Incentive. Sales Incentive below Rs. 500 shall be remitted once within one year from the date of the first accrual of Sales Incentive.
  3. Payment of Sales Incentive shall be made by anyone mode of Banking System (NEFT/RTGS/INTER BANKING TRANSFER). For this, it is mandatory to give correct bank account number and IFSC detail by Direct Seller.
  4. If Direct Seller does not receive payment due to Non-compliance of rules of Direct Selling by Direct Seller or by any other reason created by Direct Seller, then complete responsibility for delay/ Non-payment will be of Direct Seller
  5. If any defect is found in any of the RCM Products purchased, then the same can be returned/ exchanged within 30 days from the date of purchase. The returned product must be supported with Bill of purchase and such product should not be damaged from any angle. The purchaser should ensure that condition of the product should be similar to the condition which was prevailed at the time of purchases.

मार्केटिंग प्लान

(w.e.f. 1st Nov. 2012)
परिभाषाएँ :-

मार्केटिंग प्लान में इस्तेमाल किए गए निम्नलिखित शब्दों का अर्थ निम्न के रूप में परिभाषित होगा :

हर उत्पाद की वह वेल्यू जिस पर विक्रय प्रोत्साहन राशि की गणना होती है। यह उत्पादों के विक्रय मूल्य के बराबर या विक्रय मूल्य से भिन्न भी हो सकता हैए जिसकी सूचना समय.समय पर कम्पनी द्वारा वेबसाइट पर दी जाती है। बिजनस वोल्यूम में समय.समय पर कम्पनी द्वारा परिवर्तन भी किया जा सकता है।

डायरेक्ट सेलर का जिस लेग (समूह) का बिजनस वोल्यूम सबसे ज्यादा होता है, उसे मेन लेग (समूह) कहा जाता है। उस लेग (समूह) के अतिरिक्त लेगों (समूह) को मिलाकर अन्य लेग (समूह) कहा जाता है। अलग-अलग माह में मेन लेग (समूह) अलग-अलग हो सकती है।

डायरेक्ट सेलर के पूरे समूह की विक्रय प्रोत्साहन राशि में से डाउनलार्इन समूह की विक्रय प्रोत्साहन राशि को घटाकर नेट विक्रय प्रोत्साहन राशि निकाली जाती है, इसे डिफरेन्स आधार पर गणना कहते हैं। जिन डायरेक्ट सेलर्स की किसी भी कारणवश विक्रय प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने की पात्रता समाप्त हो जाती है, उनकी विक्रय प्रोत्साहन राशि को डिफरेन्स आधार पर गणना करते समय गणना से पृथक नहीं किया जायेगा।
जो डायरेक्ट सेलर नए व्यक्तियों को अपने समूह में डायरेक्ट सेलर बनने के लिए प्रपोज करता है उसको प्रपोजर कहा जायेगा |
नए आवेदक के सबसे प्रथम अपलाइन को स्पॉन्सर कहा जायेगा |

डायरेक्ट सेलर बनने का तरीका :-

किसी भी वर्तमान डायरेक्ट सेलर को प्रपोजर के रूप में रखते हुए डायरेक्ट सेलर बनने हेतु निर्धारित आवेदन पत्र इन्टरनेट के माध्यम से दर्ज करना है व उसका एक प्रिंट आउट निकालकर उस पर आवेदक व दो गवाहों के हस्ताक्षर करके आवश्यक दस्तावेजों के साथ कम्पनी के कार्यालय में भेजना है।

डायरेक्ट सेलर के रूप में रजिस्ट्रेशन करवाने का कोई भी चार्ज/फीस नहीं है आवेदन पत्र व दस्तावेजों की जाँच के पश्चात आवेदन स्वीकार किये जाने पर आवेदक को डायरेक्ट सेलर का यूनिक आईडी/ट्रेक आईडी नंबर वेबसाइट पर दर्शाया जाएगा। आईडी नम्बर प्राप्त करने के पश्चात डायरेक्ट सेलर को अपना आईडी कार्ड वेबसाइट पर लॉग इन कर के अपनी पर्सनल इन्फोरमेशन से प्राप्त करना होगा।

एक डायरेक्ट सेलर अपनी स्वेच्छा से कितने भी लोगों को स्पोंसर कर सकता/सकती है। जो स्पॉन्सर डायरेक्ट सेलर नहीं है वह एक नए व्यक्ति को स्पोंसर कर सकता/सकती है।

डायरेक्ट सेलर द्वारा आवेदन पत्र के साथ भेजे जाने वाले आवश्यक दस्तावेजों की सूची :-

  1. दो रंगीन फोटो पासपोर्ट सार्इज (फोटो के पीछे आवेदक का नाम व पिता/पति का नाम लिखें)
  2. फोटो पहचान पत्र के लिए निम्न में से कोई एक दस्तावेज की स्वप्रमाणित छायाप्रति:-
    1. पासपोर्ट (प्रामाणिक)
    2. पेन कार्ड
    3. मतदाता पहचान पत्र
    4. ड्राइविंग लाइसेन्स (प्रामाणिक)
    5. बैंक द्वारा जारी प्रमाणित फोटो पहचान पत्र
    6. मूल निवासी प्रमाण पत्र मय संचार पते एवं फोटो के साथ
    7. केन्द्र/राज्य सरकार द्वारा प्रमाणित फोटो पहचान पत्र
    8. निम्न में से किसी एक अधिकारी द्वारा प्रमाणित पत्र (फोटो सहित)
      • पंचायत प्रधान
      • पार्षद
      • ग्राम पंचायत का सरपंच
  3. पता प्रमाण पत्र के लिए निम्न में से कोई एक दस्तावेज की स्वप्रमाणित छायाप्रति :-
    1. टेलीफोन बिल जो 6 महिने से ज्यादा पुराना नहीं हो
    2. बैंक अकाउन्ट स्टेटमेन्ट (बैंक द्वारा प्रमाणित) 6 महिने से ज्यादा पुराना नहीं हो
    3. बिजली का बिल जो 6 महिने से ज्यादा पुराना नहीं हो
    4. राशन कार्ड
    5. पासपोर्ट (प्रामाणिक)
    6. ड्रार्इविंग लाइसेन्स (प्रामाणिक)
    7. मतदाता पहचान पत्र
    8. बैंक द्वारा जारी प्रमाणित फोटो पहचान पत्र
    9. किरायानामा, किराये की रसीद के साथ जो 3 महिने से पुरानी नहीं हो
    10. वर्तमान नियुक्ता प्रमाण पत्र जिसमें निवास पता अंकित हो
    11. मूल निवासी प्रमाण पत्र मय संचार पते एवं फोटो के साथ
    12. केन्द्र/राज्य सरकार द्वारा प्रमाणित पता प्रमाण पत्र
    13. अवधि उपरांत पासपोर्ट पता प्रमाण पत्र के रूप में मान्य नहीं होगा, पहचान पत्र के रूप में स्वीकार किया जा सकता है।

  4. बैंक खाता संख्या के प्रमाण के लिए निरस्त किया हुआ हस्ताक्षर सुदा एक आरिजनल चैक जिसमें कि खाताधारक का नाम प्रिन्ट हो या बैंक द्वारा जारी व प्रमाणित किया हुआ आरिजनल बैंक स्टेटमेन्ट।
  5. पेन कार्ड (PAN Card) की छायाप्रति।

विक्रय प्रोत्साहन राशि की गणना :-

विक्रय प्रोत्साहन राशि की गणना डायरेक्ट सेलर व उसके समूह द्वारा खरीद की गयी बिजनस वोल्यूम पर निश्चित प्रतिशत के आधार पर की जाती है जिसका विवरण नीचे दिया गया है :-

परफोरमेन्स बोनस :-

उदाहरण 1 :-
बिजनस की स्थिति
मेन लेग (समूह)में खरीद 80,000 B.V.
अन्य लेग/लेगों(समूह)में खरीद 33,000 B.V.
स्वयं की खरीद 2,000 B.V.
कुल बिजनस वोल्यूम 1,15,000 B.V.
परफोरमेन्स बोनस की गणना :-
कुल समूह का बोनस 1,15,000 x 24% 27,600/-
घटाएं मेन लेग (समूह) का बोनस 80,000 x 21.5% 17,200/-
घटाएं अन्य लेग लेगों (समूह) का बोनस) 33,000 x 16.5% 5,445/-
नेट परफोरमेन्स बोनस 4,955/-
उदाहरण 2 :-
बिजनस की स्थिति
मेन लेग (समूह)में खरीद 1,18,000 B.V.
अन्य लेग/लेगों(समूह)में खरीद 52,000 B.V.
स्वयं की खरीद 2,000 B.V.
कुल बिजनस वोल्यूम 1,72,000 B.V.
परफोरमेन्स बोनस की गणना
कुल समूह का बोनस 1,72,000 x 26.5% 45,580/-
घटाएं मेन लेग (समूह) का बोनस 1,18,000 x 24% 28,320/-
घटाएं अन्य लेग लेगों (समूह) का बोनस) 52,000 x 19% 9,880/-
नेट परफोरमेन्स बोनस 7,380/-

ये उदाहरण गणना को समझने के लिए दिये गये हैं।

नोट : परफोरमेन्स बोनस उन्हीं डायरेक्ट सेलर्स को दिया जायेगा जो सम्बन्धित माह में स्वयं भी कम से कम 100 बी.वी. की आर.सी.एम. उत्पादों की खरीद करते हैं अथवा यह खरीद वे सम्बन्धित माह की समाप्ति के 30 दिनों के भीतर कर लेते हैं। बोनस की गणना मासिक आधार पर व डिफरेन्स आधार पर समूह के कुल परफोरमेन्स बोनस में से डाउनलार्इन का परफोरमेन्स बोनस घटाकर की जायेगी।


रोयल्टी :


नोट :
  1. रोयल्टी उन्हीं डायरेक्ट सेलर्स को दी जायेगी जो सम्बन्धित माह में स्वयं भी कम से कम 1500 बी.वी. के आर.सी.एम. उत्पादों की खरीद करते हैं ।
  2. रोयल्टी की गणना डिफरेन्स आधार पर कुल रोयल्टी में से डाउनलार्इन की रोयल्टी घटाकर की जायेगी।
  3. रोयल्टी की गणना मासिक आधार पर की जायेगी।
  4. यदि किसी डायरेक्ट सेलर की मेन लेग (समूह) के अलावा अन्य किसी लेग (समूह) का बी.वी. 3,50,000 या उससे ज्यादा है तो उसे सैकण्ड लेग (समूह) कहा जायेगा व यदि मेन लेग (समूह) व सैकण्ड लेग (समूह) के अलावा अन्य लेग/लेगों (समूह) का बी.वी. 1,15,000 या उससे ज्यादा होता है तो सैकण्ड लेग (समूह) पर भी उपरोक्त स्लेब के अनुसार रोयल्टी मिलेगी।

टेक्नीकल बोनस :

नोट :
  1. टेक्नीकल बोनस उन्हीं डायरेक्ट सेलर्स को दिया जायेगा जो सम्बन्धित माह में स्वयं भी कम से कम 1500 बी.वी. के आर.सी.एम. उत्पादों की खरीद करते हैं ।
  2. टेक्नीकल बोनस की गणना डिफरेन्स आधार पर कुल टेक्नीकल बोनस में से डाउनलार्इन का टेक्नीकल बोनस घटाकर की जायेगी।
  3. टेक्नीकल बोनस की गणना मासिक आधार पर की जायेगी।
  4. टेक्नीकल बोनस की पात्रता के लिए किन्हीं लगातार 3 माह में 8% रोयल्टी होनी चाहिए।
  5. यदि किसी डायरेक्ट सेलर की मेन लेग (समूह) के अलावा अन्य किसी लेग (समूह) का बी.वी. 5,00,000 या उससे ज्यादा है तो उसे सैकण्ड लेग (समूह) कहा जायेगा व यदि मेन लेग (समूह) व सैकण्ड लेग (समूह) के अलावा अन्य लेग/लेगों (समूह) का बी.वी. 5,00,000 या उससे ज्यादा होता है तो सैकण्ड लेग (समूह) पर भी उपरोक्त स्लेब के अनुसार टेक्नीकल बोनस मिलेगा।

शर्तें :-
  1. असामान्य कारणों को छोड़कर विक्रय प्रोत्साहन की देय राशि की गणना सम्बन्धित माह की अंतिम तिथि के बाद 40 दिनों के भीतर की जायेगी।
  2. विक्रय प्रोत्साहन राशि का भुगतान गणना की समाप्ति के पश्चात 90 दिनों के भीतर किया जायेगा। यदि किसी डायरेक्ट सेलर की कुल देय विक्रय प्रोत्साहन राशि 500रु. से कम रहती है तो उसका भुगतान विक्रय प्रोत्साहन राशि के प्रथम उपार्जन तिथि से एक वर्ष के भीतर सम्पूर्ण उपार्जित राशि का एक मुश्त किया जायेगा।
  3. विक्रय प्रोत्साहन राशि का भुगतान किसी एक बैंक प्रणाली (NEFT/RTGS/ INTER BANKING TRANSFER) से किया जाता है, इसके लिए डायरेक्ट सेलर का स्वयं का सही बैंक खाता संख्या व सम्बनिधत बैंक आर्इएफएस कोड दर्ज होना आवश्यक है।
  4. डायरेक्ट सेलर द्वारा डायरेक्ट सेलिंग की शर्तों का पालन नहीं करने या डायरेक्ट सेलर द्वारा उत्पन्न किन्हीं कारणों से विक्रय प्रोत्साहन राशि का भुगतान यदि बाधित होता है तो उसकी समस्त जिम्मेदारी डायरेक्ट सेलर की होगी।
  5. आरसीएम से खरीदे गये उत्पाद में यदि कोर्इ दोष पाया जाता है तो ऐसे उत्पाद को खरीद दिनांक से 30 दिन के अन्दर वापस किया जा सकता है। उसके बदले अन्य उत्पाद या राशि वापस ली जा सकती है। उत्पाद वापसी के समय खरीद किया हुआ बिल प्रस्तुत करना आवश्यक है। उत्पाद किसी भी तरह से क्षतिग्रस्त नहीं होना चाहिए व उसकी गुणवत्ता खरीद किये गये समय की गुणवत्ता से किसी भी प्रकार से भिन्न नहीं होनी चाहिए।

We're Dedicated to Our Customers

Customer Service - Call : +91 01482 398000 | Email : info@rcmbusiness.com

}